WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

उत्तराखंड के इन चार जिलों में सप्ताह में दो दिन रहेगा पूर्ण लॉकडाउन, जानिए पूरी गाइडलाइन

0 0
Read Time:4 Minute, 11 Second

उत्तराखंड के 13 जिलों में से चार जिलों में कोरोना की रफ्तार ने सरकार की नींद उड़ा दी है, इन चारो जिलों को मद्य नजर रखते फैसला लिया है, जिसके बाद सरकार ने कोरोना की चैन को तोड़ने के लिए इन चार जिलों में देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल और ऊधमसिंहनगर में शनिवार और रविवार को पूर्ण लॉकडाउन करने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए शनिवार और रविवार को लॉकडाउन लागू करने पर जोर दिया था।

बता दे मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने देर शाम इस संबंध में संशोधित गाइडलाइन जारी कर दी। इसके मुताबिक अन्य राज्यों से किसी भी यात्रा सेवा के जरिए उत्तराखंड आने वाले सभी व्यक्तियों के लिए स्मार्ट सिटी वेब पोर्टल http://smartcitydehradun.uk.gov.in पर यात्रा से पहले पंजीकरण कराना अनिवार्य हो गया है। यात्रा के लिए अनुमति की जरूरत नहीं होगी। पंजीकृत अभिलेखों को बॉर्डर चेकपोस्ट पर सत्यापित किया जाएगा।

यात्रा के लिए अनुमति की जरूरत नहीं होगी। पंजीकृत अभिलेखों को बॉर्डर चेकपोस्ट पर सत्यापित किया जाएगा। चार जिलों में लागू दो दिनी पूर्ण लॉकडाउन से बसों, ट्रेन या हवाईजहाज से आने वाले यात्रियों को आवाजाही में छूट रहेगी। इन चारों जिलों में आवश्यक सेवाओं, औद्योगिक इकाइयां, कृषि और निर्माण गतिविधियां, शराब की दुकानें, होटल को इससे बाहर रखा गया है, मतलब ये सब खुले रहेंगे। इसके साथ ही आम लोग और उनके वाहनों का संचालन, राष्ट्रीय और राजमार्गों पर सामान की आवाजाही रहेगी। दूसरे राज्यों से उत्तराखंड आने वालों के बारे में फैसला लिया गया है कि अब प्रतिदिन 1500 से ज्यादा लोग राज्य में नहीं आ सकेंगे। हालांकि इस संख्या में हवाई और रेल से आने वाले यात्रियों को बाहर रखा गया है।

सरकार ने अन्य प्रदेशों से बगैर कोरोना टेस्ट कराए आने वाले व्यक्तियों की प्रतिदिन की सीमा 1500 तय कर दी है। अपरिहार्य परिस्थितियों में जिलाधिकारी उक्त संख्या से अधिक व्यक्तियों के लिए 50 परमिट जारी कर सकेंगे। इन व्यक्तियों का चेकपोस्ट पर रैंडम कोविड-19 टेस्ट हो सकता है। पॉजिटिव पाए जाने पर संबंधित व्यक्ति को केंद्रीय गृह मंत्रालय व राज्य सरकार के प्रोटोकॉल का पालन जरूरी होगा। जिला प्रशासन स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ इस व्यवस्था को सुनिश्चित कराएगा।

एसिम्पटोमेटिक श्रमिकों, कर्मचारियों, विशेषज्ञों, सलाहकार और सप्लायर्स को बॉर्डर चेकपोस्ट पर आवाजाही के लिए संबंधित संस्थाओं की ओर से जारी अधिकार पत्र साथ रखना जरूरी किया गया है। चार जिलों में लागू दो दिनी पूर्ण लॉकडाउन से बसों, ट्रेन या हवाईजहाज से आने वाले यात्रियों को आवाजाही में छूट रहेगी।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

admin

Related Posts

Read also x