टिहरी : जिलाधिकारी द्वारा किया गया, कोटेश्वर मत्स्य विभाग की हैचरी का निरीक्षण

0 0
Read Time:1 Minute, 55 Second

विरेन्द्र वर्मा

टिहरी जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने कोटेश्वर पहुँचकर मत्स्य विभाग की हैचरी का निरीक्षण किया एवं कोटेश्वर झील में मत्स्य सीड डालकर मत्स्य उत्पादन के क्षेत्र में जनपद को अग्रणी बनाये जाने का संदेश भी दिया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में मत्स्य पालन की अपार संभावनाएं हैं। संभावनाओं को अवसर में बदलने के लिये मछली व्यवसाय व अन्य काश्तकारों को जागरूक करने की आवश्यकता है। ताकि काश्तकार मल्टी क्रॉपिंग के साथ-साथ मत्स्य पालन को अपनाकर आय में वृद्धि कर सकते है।

उन्होंने कहा की मत्स्य पालन एक कॅश क्रॉप है, जिसमे काश्तकार/मत्स्य पालक कभी भी इसका विपणन कर अच्छी आमदनी कर सकते है। जिलाधिकारी ने मत्स्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि हैचरी में जो भी कमियां हैं, इस संबंध में विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर प्रस्तुत की जाय, ताकि हैचरी को और अधिक व्यवस्थित करते हुए उत्पादन क्षमता के साथ-साथ वितरण को बढ़ाया जा सके। इस इस अवसर पर जिलाधिकारी समेत टीएचडीसी के अधिकारियों एवं मत्स्य विभाग के अधिकारियों ने संयुक्त रूप से कोटेश्वर बांध झील में मछली सीड डालकर मत्स्य उत्पादन को बढ़ावा दिए जाने का संदेश दिया।

About Post Author

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Related Posts

Read also x