कविताओं, कहानियों व चित्रों का विशेषांक

Uncategorised
0 0
Read Time:50 Second

       कविताओं, कहानियों व चित्रों का विशेषांक : लोकसंहिता टीवी 

हरेला मानाओ

मेरे दगड़ियों, हरेला मनाओं।
अपने घरो में देवता पुजाओं।
सावन माह में नौ दिन पहले,
परातों में माटी भ लाओं,
मेरे दगड़ियों…………..
आह्वान कर देवो को बुलाओं
पंच अनाजों को छिड़कवाओं।
मेरे दगड़ियों…………..
पूजो जीवन उत्साह मनाओं,
प्रति दिवस जव को निराओं
मेरे दगड़ियों…………..
नवें दिवस पुन: शीश नवाओ,
सब मिल के जवो को गुड़ाओं।
मेरे दगड़ियों…………..
शुभ दिन दसवां आशीष पाओं,
हरेला चढ़ाओं, हरेला भिटाओं
मेरे दगड़ियों…………..

भावना कुकरेती
रा0प्रा0वि0टिक्कमपुर
हरिद्वार

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x