पिंडर नदी में बहे मां-बेटे का शव एसडीआरएफ एवं पुलिस ने किया बरामद

पिंडर नदी में बहे मां-बेटे का शव एसडीआरएफ एवं पुलिस ने किया बरामद
0 0
Read Time:3 Minute, 1 Second

थराली। विकासखंड देवाल के अंतिम गांव हरमल के पास पिंडर नदी पर ग्रामीणों के द्वारा डालें गए भेता लकड़ी के लट्ठे से नदी को पार करते हुए रामपुर तोर्ती गांव के पिंडर नदी में बहे किशोर का भी शव घटना के करीब 21 घंटों के बाद बरामद कर लिया गया हैं। महिला एवं किशोर के शवों को देर रात राजस्व पुलिस, रेगुलर पुलिस, एसडीआरएफ एवं क्षेत्रीय ग्रामीणों के द्वारा कड़ी मशक्कत के बाद पोस्टमार्टम के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र देवाल लाया गया हैं। यहां पर रविवार को दोनों का पोस्टमार्टम किये जाने की संभावना है। इस घटना से रामपुर, तोर्ती, हरमल, चोटिंग के साथ ही बागेश्वर जिले के किलपारा गांव में शोक छाया हुआ हैं।
शुक्रवार को रामपुर गांव की महिला हेमा देवी पत्नी प्रताप राम एवं प्रवीन कुमार पुत्र प्रताप राम बागेश्वर जिले के किलपारा गांव जहां महिला का मायका था, में एक पूजा के कार्यक्रम में भाग लेने के लिए अपने ससुराल रामपुर आ रहे थे कि देर सांय हरमल गांव में ग्रामीणों के द्वारा पुल के अभाव में पिंडर नदी को आर-पार करने के लिए नदी में डालें गए भेता से संतुलन बिगड़ने के कारण दोनों मां बेटा नदी में बह गए थे। जहां महिला का शव शुक्रवार को ही घटनास्थल से कुछ दूरी पर ग्रामीणों ने नदी से निकाल लिया था। वही किशोर के शव का पता नही चल पा रहा था। जिस पर स्थानीय ग्रामीणों के साथ मिलकर राजस्व पुलिस, रेगुलर पुलिस, एसडीआरएफ ने पिंडर नदी में एक सर्च आपरेशन चलाया। इस पर शनिवार दोपहर को किशोर का शव घटना स्थल से करीब 06 किमी दूर मानमती गांव के खोलपाटा तोक के नीचे पिंडर नदी में फंसा हुआ मिला। कड़ी मशक्कत के बाद किशोर के शव को नदी से निकाला गया। इन दिनों इस क्षेत्र में यातायात की उचित व्यवस्था नही होने के कारण कड़ी मशक्कत के बाद दोनों के शवों को शनिवार देर रात देवाल लाया गया। थराली थानाध्यक्ष बृजमोहन राणा ने बताया कि दोनों शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

admin

Related Posts

Read also x