सफलता पाले को अपना टैलेंट पहचाने : डीजीपी

सफलता पाले को अपना टैलेंट पहचाने : डीजीपी
0 0
Read Time:2 Minute, 39 Second

पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि जीवन में चुनौतियों का सामना करना और उन चुनौतियों के बीच अपनी खुशियों के लिए रास्ता खोजना बहुत जरूरी है। आज वह ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी के इंडक्शन प्रोग्राम को सम्बोधित कर रहे थे।
नये छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए उन्हांेने कहा कि अपने जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिये इंसान को पहले अपनी प्रतिभा को पहचानना बहुत जरूरी है। पुलिस महानिदेशक ने नई पीढ़ी को नशे से दूर रखने के लिये एक फिल्म भी दिखाई। उन्हांेने छात्र-छात्राओं को नशे से दूर रहने की शपथ लगाई। डीजीपी ने कहा कि जीवन में हर व्यक्ति को एक विजन और मिशन जरूरी है और उस विजन और मिशन पहचान करना उससे भी ज्यादा महत्वपूर्ण कार्य है। अपने सहयोगियों का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि जीवन में तीन पहलुओं जैसे फोकस, असफलता और रिजेक्शन पर हमें हमेशा ध्यान देना चाहिए।
स्कूली दुनिया छोड़कर विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं को लाइफ टिप्स देते हुए अशोक ने कहा कि जीवन में सफल होने के लिए सबसे पहले असफलता को समझना बहुत जरूरी है। जीवन में कितनी भी बड़ी चुनौतियों क्यों ना आ जाये, व्यक्ति को कभी हार नही माननी चाहिये। एक आईआईटियन से डीजीपी का सफर तय करने वाले अशोक कुमार सकरात्मक और नकारात्मक चुनौतियों पर प्रकाश डालते हुए छात्र-छात्राओं को सिविल सर्विसेज के लिए प्रेरित किया। उन्हांेने कहा कि छात्र-छात्राएं हमारे देश का भविष्य है।
ग्राफिक एरा डीम्ड युनिवर्सिटी के महानिदेशक प्रो. एच. एन. नागाराजा ने धन्यवाद के प्रतीक के रूप में स्मृति चिन्ह भेंट दी। इस मौके पर सभी विभागाध्यक्ष, फैकल्टी और छात्र-छात्राएं मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचलान साहिब सबलोक ने किया।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x