WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

कोरोना वायरस कोरोनिल की दवा के दावे से पलटा पतंजलि आयुर्वेद

0 0
Read Time:2 Minute, 48 Second

पतंजलि योगपीठ की दिव्य फार्मेसी अपने पूर्व में किए गए कोरोना वायरस की दवा बनाने के अपने दावे से पलट गया। योग गुरु बाबा रामदेव पतंजलि योगपीठ ने दावा किया था कि उसकी दवाई कोरोनिल से कोरोना वायरस का इलाज संभव है। जबकि उत्तराखंड आयुष विभाग की ओर से जारी नोटिस के जवाब में सोमवार पतंजलि ने ऐसी कोई दवा न बनाने की बात कही है। बता दें कि पिछले मंगलवार को कोरोनल की लॉन्चिंग के दौरान योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने कोरोनिल, श्वसारि बटी और अनु तेल से कोरोना के उपचार का दावा किया था। इस पर 24 जून को उत्तराखंड आयुष विभाग ने पतंजलि को नोटिस जारी किया था।

यह भी पढ़े : कोरोना से मुक्त हुए सतपाल महाराज और अमृता रावत, शुभचिंतको का व्यक्त किया आभार

बता दें कि पिछले मंगलवार को कोरोनल की लांचिंग के दौरान योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने कोरोनिल, श्वसारि बटी और अनु तेल से कोरोना के उपचार का दावा किया था। इस पर 24 जून को उत्तराखंड आयुष विभाग ने पतंजलि को नोटिस जारी किया था। लेकिन अब पतंजलि अपने इस दावे से पलट गया है।

यह भी पढ़े : 01 जुलाई से पहाड़ी रूटों पर होगी शुरू विश्वनाथ बस सेवा, फोन पर कराएं बुकिंग

उत्तराखंड आयुष विभाग द्वारा भेजे गए नोटिस के जवाब में पतंजलि अपने इस दावे से पलट गया है। बताया जा रहा है कि पतंजलि ने जवाब में ये लिखा कि उसने कभी भी कोरोना के इलाज का दावा नहीं किया। उसने केवल आयुर्वेद औषधि कोरोनिल टेबलेट के कोरोना संक्रमित मरीजों पर क्लीनिकल ट्रायल के परिणामों की जानकारी दी। इस औषधि के उपयोग से कोरोना संक्रमितों पर काफी सकारात्मक असर हुआ था।

यह भी पढ़े : उत्तराखंड : एक जुलाई से चारधाम यात्रा को मिली अनुमति, उत्तराखंड तीर्थयात्री ही कर पाएंगे दर्शन, ये है वजह


करें क्लिक पढ़े उत्तराखंड से जुडी हर ख़बर

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

admin

Related Posts

Read also x