WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

मां-बेटी आत्मदाह मामला : अमेठी में भी एक्शन, एसओ सहित 4 पुलिसकर्मी निलंबित

0 0
Read Time:5 Minute, 18 Second

लखनऊ में लोकभवन के सामने अमेठी में मां-बेटी द्वारा आत्मदाह किए जाने के मामले ने जबरदस्त तूल पकड़ लिया है, एक तरफ अमेठी में एसओ सहित 4 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है, तो वहीं दूसरी तरफ अब लखनऊ पुलिस ने मामले के पीछे सोची समझी साजिश का होना बताया है और इस मामले में MIM और कांग्रेस नेता सहित 4 के खिलाफ आपराधिक साजिश में शामिल होने के आधार पर FIR लिखी गई है।

लखनऊ पुलिस के कमिश्नर सुजीत पांडेय ने जानकारी देते हुए बताया कि बीते शुक्रवार शाम लोक भवन के गेट नंबर 3 पर 2 महिलाओं ने खुद को आग लगाने की कोशिश की, जिसके बाद दोनों मां-बेटी को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहाँ दोनों की हालत सामान्य है। इस मामले के संबंध में विगत 9 मई 2020 को अमेठी में दो FIR लिखी गई थी। अमेठी में गुड़िया ने अर्जुन और 3 अन्य के खिलाफ FIR लिखावाई थी, कल रात जो सबूत मिले हैं, उन्ही के आधार पर इस साज़िश का पता चल पाया है।इस षड्यंत्र में मां-बेटी को उकसाने का मामला सामने आया है, इस मामले में 4 लोगों पर FIR दर्ज़ हुई हैं। अमेठी में MIM और कांग्रेस के नेताओं का नाम सामने आया है, आसमां और सुल्तान नाम के भी 2 लोगों का नाम षड्यंत्र में शामिल बताया जा रहा है। इन चारों ने इन दोनों मां-बेटी को आत्मदाह के लिए मज़बूर किया था। पहले ये दोनों कांग्रेस कार्यालय गए और अनूप पटेल से बात कराई, आसमां और MIM के नेता कदीर खान को गिरफ़्तार किया गया है। वहीँ अमेठी और लखनऊ पुलिस टीम बाकी लोगों को गिरफ्तार करने की कोशिश में जुट गई है।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि लोकभवन पर महिला को आग लगाने में रोकने में नाकाम रहने पर उस समय तैनात 4 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है, लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने कहा कि हमने इस संबंध में 4 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है, इनमें MIM नेता कदीर खान और कांग्रेस नेता अनूप पटेल का नाम शामिल हैं।

पुलिस के अनुसार घटना से पूर्व दोनों महिलाएं कांग्रेस दफ्तर जाकर अनूप पटेल से मिली भी थीं. यही नहीं अनूप पटेल ने एक बड़े चैनल के पत्रकार को फोन करके कवरेज करने की बात कही थी. पत्रकार ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी कि अनूप पटेल ने फोन करके पूरे मामले की जानकारी दी थी। उधर अमेठी में भी इस मामले को लेकर एक्शन शुरू हो गया है. मामले में अमेठी की एसपी को अफसरों ने फटकार लगाई है. इसके बाद डीएम और एसपी ने पीड़ित परिवार के गांव जाकर मामले की जानकारी की. मामले में जामो थाने के एसओ सहित 4 पुलिसकर्मी निलंबित कर दिए गए हैं. उधर लखनऊ में गंभीर हालत में दोनों मां-बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस मामले में सियासत भी तेज हो गई है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा है कि बीजेपी सरकार में गरीबों की कोई सुनवाई नहीं है. सपा कार्यकाल में बनवाए गए लोकभवन को लेकर उन्होंने कहा कि सपा ने लोकभवन इसलिए बनवाया था कि जहां बिना भेदभाव आम जनता अपनी शिकायतों के निवारण के लिए जा सके। वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि जमीन विवाद प्रकरण में अमेठी जिला प्रशासन से न्याय न मिलने पर मां-बेटी को लखनऊ में सीएम कार्यालय के सामने आत्मदाह करने को मजबूर होना पड़ा. यूपी सरकार इस घटना को गम्भीरता से ले तथा पीड़ित को न्याय दें व लापरवाह अफसरों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही अमल में लाएं ताकि ऐसी घटना दोबारा न हो सके।

About Post Author

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

Related Posts

Read also x