WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

कोटद्वार : हरेला पर्व के अवसर पर आज सभी विद्यालयों में दिखा पर्यावरण के प्रति समर्पण

0 0
Read Time:6 Minute, 49 Second

कोटद्वार : बीईएल रोड स्थित महर्षि विद्या मंदिर में हरेला पर्व धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान विद्यालय के प्रधानाचार्य संजीव पाण्डे ने हरेला पर्व के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि हरेला पर्व हर साल कर्क संक्रांति को मनाया जाता है, तथा अंग्रेजी कलेंडर के अनुसार यह त्यौहार हर वर्ष 16 जुलाई को मनाया जाता है। यह त्यौहार प्रमुख रूप से कुमाऊं गढ़वाल तथा हिमांचल के कुछ क्षेत्रों में प्रमुखता से मनाया जाता है। माना जाता है कि हरेला पर्व से ही श्रावण मास व वर्षा ऋतु शुरू होती है।

इस दिन हरियाली के तिनको को इष्ट देव को अर्पित कर अच्छे धन धान्य, दुधारू जानवरों की रक्षा व परिवार, पित्रों की कुशलता की कामना की जाती है। कहा कि यह पर्व हमारे हमारी संस्कृति को उजागर करता है। इस अवसर पर प्रधानाचार्य ने सभी शिक्षकों के साथ मिलकर विद्यालय के प्रांगण में पौध रोपकर लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया।

वहीँ, आज सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज जानकीनगर कोटद्वार में “हरेला सप्ताह” के अवसर पर विद्यालय में पुनः वृक्षारोपण किया गया । विद्यालय के मीडिया प्रभारी रोहित बलोदी जी ने बताया कि विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री लोकेंद्र अंथवाल जी, अध्यक्ष राकेश एरॉन जी नगर कार्यवाह मनीराम जी विस्तारक अभिषेक जी द्वारा विद्यालय परिसर में बेलपत्र, अमरुद, गुड़हल, गुलाब, अशोक अदि वृक्षों का वृक्षारोपण किया गया। इस अवसर पर अध्यक्ष जी पर्यायवरण संतुलन पर अपने विचार रखें।

उन्होंने पर्यावरण के प्रति अपनी कटुब्धता को भी प्रकट किया । प्रधानाचार्य जी ने इस विद्यालय की NSS इकाई द्वारा अपने अपने क्षेत्रो में पर्यवारण संरक्षण हेतु किये गए प्रयासो को लेकर बधाई प्रेषित की । उन्होंने विद्यार्थियों को ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से अपने अपने क्षेत्र में अधिक से अधिक वृक्षारोपण करने का संकल्प दिलाया।

हरेला पर्व के अवसर पर राजकीय इण्टर कॉलेज कण्वघाटी में कार्यक्रम अधिकारी रमाकांत कुकरेती एवं सहायक कार्यक्रम अधिकारी मंजू नेगी के नेतृत्व में राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के स्वयं सेवियों द्वारा लोकपर्व के अवसर पर विद्यालय परिसर में वृहद वृक्षारोपण किया गया।

वृक्षारोपण के तहत औषधीय एवं फलदार वृक्ष आम अमरूद, नीम जामुन का रोपण किया गया। वृक्षारोपण के तहत हंस फाउंडेशन के प्रदेश प्रभारी पदमेन्द्र बिष्ट व आशीषम फाउंडेशन के सचिव आशीष जदली अध्यक्ष भाषकर बौढ़ियाल सामाजिक सरोकारों से जुड़ी श्रीमती गीता बुडकोटी व निधि बुडाकोटी के साथ विद्यालय के शिक्षक कुलदीप नेगी, रघुवीर सिंह गुंसाई व कार्यालय स्टाफ महेन्द्र सिंह आदि उपस्थित थे। साथ ही आशीषम फाण्डेशन के तत्वावधान में स्वयंसेवियों एवम् उपस्थित शिक्षकों सैनिटाइजर भी वितरित किया गया।

इसके आलावा आज बलूनी पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य व शिक्षकों व शिक्षिकाओं द्वारा हरेला पर्व के अवसर पर स्कूल प्रांगण में पौधरोपण किया गया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य डॉ0 अनुराग ने कहा कि हरेला पर्व का उत्तराखण्ड में हरेला पर्व का एक अलग महत्व है।

विद्यालय की डारेक्टर अभिलाषा भारद्वाज ने कहा कि इस कोरोना काल की मुश्किल घड़ी में हम सब को पर्यावरण को स्वच्छ रखना है, सभी लोग आने आस पास घरों में हरेला पर्व के अवसर पर एक वृक्ष अवश्य लगाये तथा उत्तराखण्ड की इस पावन धरती को निरंतर हरा भरा बनाएं। इस दौरान उन्होंने बच्चों को संदेश देते हुए कहा कि वह अपने घर से बाहर ने निकले, घर पर रहकर ही अपनी पढ़ाई को पूरा करें।

वहीँ, आरसीडी पब्लिक स्कूल शिवराजपुर की एनएसएस इकाइ द्वारा हरेला पर्व पर विद्यालय परिसर में स्वच्छता अभियान चलाने के साथ ही आम के पौधों का रोपण किया गया। पौधरोपण अभियान का शुभारम्भ एनएसएस के गढ़वाल मण्डल कार्यक्रम समन्वयक पुष्कर सिंह नेगी जिला समन्वययक परितोष कुमार रावत प्रबंध निरीक्षक सुभाष चन्द्र ढौडियाल तथा प्रधानाचार्य सीमा ढौड़ियाल ने आम का पौधा रापेकर किया।

इस अवसर पर विद्यालय के प्रबंध निरीक्षक सुभाष चन्द्र ढौंडियाल ने हरेला को उत्तराखण्ड की संस्कृति और प्रकृति पूजन का पर्व बताते हुए कहा कि हमें प्रकृति के प्रति संवेदनशील बनना होगा तभी धरती को हरा भरा बनाना पर्यावरण को समृद्ध और प्रदूषण मुक्त किया जा सकता है। कार्यक्रम अधिकारी नेहा सेमवाल के मार्गदर्शन में स्वयंसेवी छात्र-छात्राओं ने विद्यालय की एनएसएस वाटिका और क्रीडा प्रांगण की साफ सफाई करके आम के फलदार पौधों का रोपण किया।

About Post Author

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

Related Posts

Read also x