कोटद्वार : बाढ़ सुरक्षा कार्यो को लेकर महापौर ने ली, सिंचाई विभाग के अधिकारियों की बैठक

0 0
Read Time:3 Minute, 13 Second
 
कोटद्वार : नगर निगम की महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने नगर आयुक्त की मौजूद्गी में सिंचाई विभाग एवं नगर निगम के अधिकारियों की बैठक लेते हुए निगम क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली नहरों की सफाई करने एवं बाढ सुरक्षा कार्यो को करवाने के निर्देश दिये। नगर निगम सभागार में आयोजित बैठक में महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने कहा कि वर्तमान में नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत भारी बरसात से नदियों से नहरों में पानी के लिए बनाये गये कच्चे बंधे भी क्षतिग्रस्त हो गये है, तथा नहरे कूडे कचरे के अलावा रेत बजरी से पूरी तरह से भर गयी है, जिससे किसानों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।
 
महापौर ने कहा कि दांईखोह एवं बांई खोह एवं मालन नदी पूरे नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली खेती को सिंचित करती है, लेकिन भारी बरसात के चलते नदियों से नहरों में पानी के लिए बनाये गये कच्चे बंधे भी क्षतिग्रस्त हो गये है।महापौर ने सिंचाई विभाग से नहरों एवं गूलों की सफाई करने के निर्देश दिये। सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने बताया कि वर्तमान में नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत नदियों में कच्चे बंधों की मरम्मत सहित बाढ सुरक्षा कार्यो के लिए 57 लाख रूपये धनराशि का इस्टीमेट बनाकर स्वीकृति के लिए शासन को भेज दिया गया है।
 
जिसमें दांयी एवं बांई खोह नहर का कच्चा बंधा, गिंवई नहर व सुखरो नहर का कच्चा बंधा, दांयी खोह नहर का कुलावा संख्या-14 की गूल, ग्वालगढ नहर का कच्चा बंधा सहित बाढ सुरक्षा के तहत ग्वालगढ नाला, एवं खोह नदी पर गाडीघाट पुल से नीचे बाढ सुरक्षा दीवार का निर्माण सहित खोह नदी, तेलीस्रोत का नाले में बाढ सुरक्षा कार्यो का निर्माण करवाना शामिल है।
 
महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने कहा कि नगर निगम क्षेत्र में कम लागत से बनने वाले निर्माण कार्यो को निगम से तथा अधिक धनराखि खर्च होन वाले निर्माण कार्यो को सिंचाई विभाग के माध्यम से करवाया जायेगा। इस मौके पर नगर आयुक्त योगेश मेहरा, सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता सुबोध मैठाणी, सहायक अभियंता विनोद, भगवती प्रसाद कबटियाल, जयमल सिंह सजवाण मोजूद थे। 

About Post Author

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Related Posts

Read also x