WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

कोटद्वार : मेडिकल काॅलेज के निर्माण को ठंडे बस्ते में डालने के विरोध में कांग्रेस ने दिया एक दिवसीय धरना

0 0
Read Time:5 Minute, 28 Second

कोटद्वार : जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी एवं महापौर श्रीमती हेमलता नेगी के नेतृत्व में भाबर क्षेत्र में कांग्रेस के कार्यकाल में स्वीकृत मेडिकल कालेज के निर्माण को ठंडे बस्ते में डाले के विरोध में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन करते हुए प्रदेश सरकार के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया।

भाबर क्षेत्र के अंतर्गत लछमपुर में आयोजित धरना प्रदर्शन कार्यक्रम में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने कहा कि पूर्व कांग्रेस शासनकाल में उनके अथक प्रयासों से कोटद्वार भाबर के लिए मेडिकल कालेज को स्वीकृत करवा दिया गया था, जिसका बकायदा प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने शिलान्यास भी कर दिया था, मेडिकल कालेज के लिए लछमपुर में 192 बीघा मूभि को चयन करते हुए स्वास्थ्य विभाग को भी हस्तातांररित कर दिया था, मेडिकल कालेज की निर्माण की दिशा में कार्य करते हुए चयनित भूमि पर चाहर दीवारी का निर्माण कार्य करवा दिया था, तथा पानी के लिए एक ट्यूबवैल का भी निर्माण करवा दिया था, लेकिन प्रदेश में सत्ता परिवर्तन होने के बाद सत्तासीन भाजपा सरकार ने उक्त स्वीकृत मेडिकल कालेज पर निर्माण कार्य बंद करवा दिया है।

जिससे कोटद्वार वासियों का मेडिकल का सपना चकनाचूर कर दिया है। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने वर्तमान क्षेत्रीय विधायक पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि क्षेत्रीय विधायक ने उक्त मेडिकल की भूमि को श्रम विभाग को स्थानांतरित करते हुए ईसीएच के माध्यम से मेडिकल बनाने का सपना दिखाया जा रहा है, कहा कि पूरे देश में कहीं भी ईसीएच के माध्यम से मेडिकल कालेजों का निर्माण नहीं करवाया जाता है, क्षेत्रीय विधायक सिर्फ लोगों को दिवास्वप्न दिखाकर झूठे शगूफे छोडकर जनता को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में उनके अथक प्रयासों से स्वीकृत विकास कार्यो को ठंडे बस्ते में डालना दुर्भाग्यपूर्ण है, कहा कि विगत तीन सालों में कोटद्वार में विकास के नाम पर एक ईंट भी नहीं रखी गयी है।

उन्होंने कोटद्वार भाबर की जनता से अपने अधिकारों की लड़ाई लडने का आहवान करते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि प्रदेश सरकार एवं क्षेत्रीय प्रतिनिधियों से उनके कार्यो का लेखा जोखे का हिसाब किताब मांगा जाय। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से मेडिकल कालेज को केन्द्रीय वित्त पोषित करवाये जाने की मांग करते हुए कहा कि मेडिकल कालेज बन जाने से कई लोगों को प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिल सकेगा। साथ ही स्थानीय मेधावी एवं प्रतिभावान गरीब छात्रों को कम खर्च पर एमबीबीएस करने भी अवसर प्राप्त हो सकेगा।

इस मौके पर जिलाध्यक्ष डा0 चन्द्रमोहन खर्कवाल, महानगर अध्यक्ष संजय मित्तल, महानगर कांग्रेस अध्यक्ष शकुंतला चौहान, कांग्रेस सेवादल के नगर अध्यक्ष राकेश शर्मा, जिलाध्यक्ष सुमित रावत, यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विजय रावत, पूर्व प्रधान कीरत सिंह नेगी, पूरण चंद्र शर्मा, कृष्ण चंद्र खंतवाल, प्रेम सिंह सिंह रावत, प्रमोद बौंठियाल, विनोद रावत, विनोद नेगी, हयात सिंह मेहरा, कृष्णा बहुगुणा, महाविद्यालय छात्र संघ अध्यक्ष हिमांशू बहुखंडी, बलवीर सिंह रावत, हेमचंद्र पंवार, अशुंल रावत, सूर्यमणि, आशीष काला सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।

About Post Author

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

Related Posts

Read also x