गैस रिसाव कांड का आरोपी कबाड़ी गिरफ्तार

गैस रिसाव कांड का आरोपी कबाड़ी गिरफ्तार
0 0
Read Time:4 Minute, 35 Second

रुद्रपुर। ट्रांजिट कैंप थानाक्षेत्र के आजादनगर में क्लोरीन गैस रिसाव के मामले में पुलिस ने आरोपी कबाड़ी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपी ने यह सिलेंडर 4100 रुपये में दो लोगों से खरीदा था। गैस लीकेज होने के बाद उसने गोदाम को बंद कर दिया था, लेकिन सुबह गैस पूरे क्षेत्र में फैल गई और लोगों की जान खतरे में पड़ गई। आरोपी को जेल भेज दिया है। अब सिलेंडर बेचने वाले लोगों के बारे में पूछताछ के लिए पुलिस आरोपी को रिमांड पर लेगी। बुधवार को पुलिस ने बताया कि सोमवार की रात में कबाड़ी बबलू कश्यप पुत्र चौखे लाल निवासी वार्ड नंबर चार ने गोदाम में क्लोरीन सिलेंडर की नोजल लीक कर गैस निकालने की कोशिश की थी, लेकिन गैस निकलने उसकी आंखों में जलन और तबीयत खराब हुई तो वह गोदाम में सिलेंडर बंद कर चला गया। इससे रात में गै्स निकलती रही। मंगलवार तड़के गोदाम के सिलेंडर से निकली क्लोरीन गैस पूरे आजादनगर में फैल गई। लोगों को सांस लेने में दिक्कत हुई और उल्टियां होने लगीं। इससे आजादनगर में अफरा-तफरी मच गई। पुलिस को सचना मिली तो चीता मोबाइल लेकर मौके पर पहुंची। चारों ओर लोग परेशान थे, उल्टियां हो रहीं थीं। इसके बाद कुछ देर में सूचना पर और पुलिस पहुंची, लोगों को रेस्क्यू करने का अभियान शुरू किया। इसके बाद सिलेंडर को आबादी से दूर ले जाने की कोशिश में एसडीएम किच्छा, सीओ सिटी समेत रेसक्यू टीम के नौ सदस्य भी गैस से प्रभावित हो गए। वहीं कुल 47 लोग प्रभावित हुए थे। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। क्लोरीन गैस के सिलेंडर को एनडीआरएफ की सहायता से रेस्क्यू कर सिडकुल से दूर मैदान में डिस्पोजल कर दिया गया। इसके बाद थाना ट्रांजिट कैंप पुलिस ने आरोपी बबलू कश्यप के खिलाफ 307 और 278 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया। उसकी तलाश की जा रही थी। इसके बाद पुलिस ने बुधवार को सिडकुल ढाल से उसको गिरफ्तार कर लिया।
29 अगस्त की रात को खरीदा था सिलेंडर
आरोपी कबाड़ी बबलू ने पूछताछ में बताया कि यह सिलेंडर 29 अगस्त को जे ब्लाक में स्थित सरकारी पानी की टंकी में काम करने वाले सुरेंद्र व वीरपाल से 4100 रुपये में खरीदा था। रात को अपने गोदाम में सिलेंडर की नोजल लीक कर गैस को बाहर निकालने का प्रयास किया। इसके बाद उसकी आंख में हल्की सी जलन महसूस हुई तभी उसको पता चल गया कि यह गैस काफी खतरनाक है, लेकिन उसने लालच में आकर गोदाम का दरवाजा बंद कर सिलेंडर को धीरे-धीरे गैस लीक करने के लिए गोदाम में ही रख दिया। सोचा कि गैस निकलने के बाद खाली सिलेंडर बेच देगा। आरोपी ने स्वीकार किया कि उसने लालच के कारण मोहल्ले के सभी लोगों का जीवन खतरे में डाल दिया। पुलिस अब सिलेंडर बेचने वाले अभियुक्त सुरेंद्र व वीरपाल की तलाश कर रही है।
आरोपी कबाड़ी को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में सिलेंडर बेचने वालों के नाम सामने आए हैं। इन लोगों को सिलेंडर कहां से मिला इसकी पूरी पड़ताल की जाएगी। इसके लिए आरोपी को रिमांड में लिया जाएगा। -डॉ. मंजूनाथ टीसी, एसएसपी ऊधमसिंह नगर.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x