WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

ग्राफिक एरा में इंटरनेशनल स्टूडेंट कॉन्फ्रेंस शुरू

ग्राफिक एरा में इंटरनेशनल स्टूडेंट कॉन्फ्रेंस शुरू
0 0
Read Time:4 Minute, 58 Second

देहरादून। ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी में विशेषज्ञों ने प्रबंधन और टेक्नोलॉजी को साथ लेकर सस्टेनेबल डेवलपमेंट के लिए रिसर्च की आवश्यकता पर जोर दिया। विश्वविद्यालय में मैनेजमेंट और टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में शोध को बढ़ावा देने के लिए दो दिन की इंटरनेशनल स्टूडेंट कॉन्फ्रेंस शुरू हुई। कंटेंपरेरी इश्यूज इन मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी विषय की इस दो दिन की कॉन्फ्रेंस में जर्मनी, मोरक्को और कनाडा के साथ-साथ ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी, ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी सहित देश के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों छात्र-छात्राएं मैनेजमेंट और टेक्नोलॉजी से संबंधित 80 शोध पत्र प्रस्तुत करेंगे। विश्वविद्यालय के डिपार्टमेंट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज की आयोजित इस अंतरराष्ट्रीय स्टूडेंट कांफ्रेंस के उद्घाटन सत्र में ग्राफिक एरा डीम्ड विश्वविद्यालय के चांसलर प्रोफेसर डॉ आर सी जोशी ने कहा कि आज हम टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में निरंतर नया मुकाम बना रहे हैं। हमें विकास में सही मैनेजमेंट के साथ सस्टेनेबिलिटी के लिए इनोवेटिव सोच और रिसर्च की आवश्यकता है। ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर डॉ संजय जसोला ने कहा की छात्र-छात्राओं को शोध के लिए प्रेरित करने के लिए, यह स्टूडेंट कॉन्फ्रेंस एक यूनिक प्रयास है। उन्होंने कहा कि 21वीं सदी के लर्नर्स के लिए रिसर्च और इनोवेशन एक महत्वपूर्ण स्किल है। उन्हें प्रॉब्लम सॉल्वर होना होगा और साथ में हमेशा कुछ नया सीखने की प्रवृत्ति बढ़ानी होगी। उद्घाटन सत्र में ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी के एलुमनाई और आईवाईएसईआरटी एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन राकेश विश्वास ने छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के साथ-साथ इनोवेशन और शोध के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि मैनेजमेंट, जो हम किताबों में पढ़ते हैं, जब तक हम उसे व्यवहार में नहीं उपयोग करेंगे, वह पढ़ाई किताबी रहती है। रिसर्च और इनोवेशन हमारे नॉलेज को व्यवहारिक बनाता है। अपनी इंटरप्रेन्योर जर्नी के अनुभव को साझा करते हुए, उन्होंने कहा कि आपके पास कोई इनोवेटिव आइडिया है, आप उस विचार पर जोश और जज्बे के साथ, समर्पित रहते हैं तो आपको अवश्य सफलता मिलती है। ग्राफिक एरा के छात्र रहते हुए ही, उन्होंने रिन्यूएबल एनर्जी के क्षेत्र में कुछ नया करने की ठानी थी। उस वक्त से ही वह रिसर्च और इनोवेशन पर काम करते रहे। जिसका परिणाम आज उनकी कंपनी सोलर और विंड एनर्जी के प्रोडक्ट बनाने वाली देश की चौथी सबसे बड़ी कंपनियों में शामिल है। दो दिन की इस इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस में अलग-अलग सत्रों में मैनेजमेंट और टेक्नोलॉजी से जुड़े विषयो पर छात्र-छात्राएं अपने शोध पत्र ऑफलाइन और ऑनलाइन माध्यम से प्रस्तुत करेंगे। उद्घाटन सत्र में ग्राफिक एरा के डायरेक्टर जनरल प्रोफेसर एच एन नागराजा, डीन मैनेजमेंट स्टडीज मेजर जनरल ओ पी सोनी, प्रोफेसर राजेश तिवारी, आईवाईएसईआरटी एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड की एमडी आरती द्विवेदी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। डिपार्टमेंट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज के विभागाध्यक्ष डा नवनीत रावत, डॉ मनु शर्मा, शिक्षक और छात्र-छात्राएं इस अवसर पर उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन कैप्टन राजश्री थापा ने किया।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

admin

Related Posts

Read also x