चीनी लोन ऐप मामले में ED ने बेंगलुरु में छह स्थानों पर की छापेमारी

चीनी लोन ऐप मामले में ED ने बेंगलुरु में छह स्थानों पर की छापेमारी
0 0
Read Time:1 Minute, 47 Second

प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को एक बयान जारी कर कहा कि, तत्काल लोन देने वाली कंपनियों के खिलाफ जांच के तहत स्मार्टफोन आधारित एप्पलीकेशन जैसे रेजरपे, पेटीएम और कैशफ्री के बेंगलुरु ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है।  बयान में कहा गया कि कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में शुक्रवार को छह परिसरों में तलाशी शुरू की गई है। प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि ये तलाशी अभियान लगातार जारी रहेगी। संघीय जांच एजेंसी ने कहा कि उसने छापे के दौरान व्यापारी ID और इन चीनी व्यक्तियों द्वारा नियंत्रित संस्थाओं के बैंक खातों में रखे गए 17 करोड़ रुपये को जब्त कर लिया है। इन संस्थाओं का काम करने का तरीका यह है कि वे भारतीयों के जाली दस्तावेजों का उपयोग करते हैं और उन्हें डमी निदेशक बनाते हैं जिससे “अपराध की आय” उत्पन्न होती है। उन्होंने कहा, इन संस्थाओं को चीनी व्यक्तियों द्वारा नियंत्रित/संचालित किया जाता है। डी ने कहा, रेजरपे प्राइवेट लिमिटेड, कैशफ्री पेमेंट्स, पेटीएम पेमेंट सर्विसेज लिमिटेड और चीनी व्यक्तियों द्वारा नियंत्रित/संचालित संस्थाओं के परिसरों को तलाशी अभियान में शामिल किया गया है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x