डाक कांवड़ गाड़ी ने दो कांवड़ियों को कुचला, तीन अलग-अलग दुर्घटनाओं में सात की मौत

डाक कांवड़ गाड़ी ने दो कांवड़ियों को कुचला, तीन अलग-अलग दुर्घटनाओं में सात की मौत
0 0
Read Time:5 Minute, 40 Second

रुडकी। कांवड़ यात्रा के दौरान तीन अलग-अलग दुर्घटनाओं में सात कांवड़ियों की मौत हो गई। रविवार तड़के बैरागी कैंप में डाक कांवड़ के वाहन ने जमीन पर सो रहे दो कांवड़ियों को कुचल दिया। इस दौरान गुस्साए कांवड़ियों ने जमकर हंगामा किया। वहीं प्रेमनगर आश्रम चौक के पास हुई दो दोपहिया वाहन की भिड़त में तीन कांवड़ियों की मौत हो गई, दो मृतकों की शिनाख्त नहीं हुई है।
रुड़की-हरिद्वार हाईवे स्थित कोर कॉलेज के पास शनिवार देर रात कार की टक्कर से बाइक सवार दो कांवड़ियों की मौत हो गई। पहली दुर्घटना प्रेमनगर आश्रम चौक के पास घटित हुई। एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि दो मोटरसाइकिलों की आमने-सामने की भिड़त हुई।
कांवड़ियों को गंभीरवस्था में तुरंत आनन-फानन में जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां एक कांवड़िए को मृत घोषित कर दिया, जबकि तीन कांवड़ियों को एम्स ऋषिकेश रेफर कर दिया। एसपी सिटी ने बताया कि एम्स में उपचार के दौरान दो कांवड़ियों की भी मौत हो गई जबकि एक कांवड़िए का इलाज चल रहा है।
उन्होंने बताया कि जिला अस्पताल में मृत घोषित हुए कांवड़िए की पहचान विनय पुत्र राम सुमेर निवासी गांव पासवाला चरोहा कौशांबी यूपी के रूप में हुई, जबकि एम्स में दम तोड़ने वाले कांवड़ियों की पहचान के प्रयास जारी है। वहीं, रविवार तड़के बैरागी कैंप में डाक कांवड़ वाहन निकाल रहे कांवड़ियों से भरा ट्रक नीचे जमीन पर सो रहे दो कांवड़ियों के ऊपर चढ़ गया।
कांवड़ियों की चीख पुकार सुनकर उनके साथी कांवड़िए एकत्र हो गए, जिन्होंने हंगामा खड़ा कर दिया। इधर, कांवड़ियों के कुचलने की सूचना पर पुलिस महकमे के हाथ पांव फूल गए। आनन-फानन में सीओ अनुज कुमार अपना वाहन लेकर तुंरत मौके पर पहुंचे, जो तुरंत ही कांवड़ियों को अपने वाहन में लेकर जिला अस्पताल पहुंचे लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।
एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह के अनुसार कांवड़ियों की पहचान योगेश कुमार 21 वर्ष निवासी ग्राम रामपुर खरखोदा सोनीपत और दीपांशु 22 वर्ष निवासी गांव कुंडल जिला सोनीपत हरियाणा के रूप में हुई। इस संबंध में कांवड़ियों के साथी विशाल ने आरोपी डाक कांवड़ वाहन चालक के खिलाफ कनखल थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। एसपी सिटी ने बताया कि दुर्घटना के संबंध में कार्रवाई कर रहे है।
तीसरा हादसा रुड़की-हरिद्वार हाईवे स्थित कोर कॉलेज के पास हुआ। जब शनिवार देर रात बदायूं निवासी तीन बाइक सवार हरिद्वार जल लेने जा रहे थे। जैसे ही उनकी बाइक कोर कॉलेज से आगे रतमऊ नदी के पुल पर पहुंची तो हरिद्वार की तरफ से आ रही कार से उनकी आमने-सामने की टक्कर हो गई।
हादसे में चंद्रपाल (35) पुत्र हेमराज की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि शिवम (18) पुत्र बनवारी लाल ने अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में ही दम तोड़ दिया। बहादराबाद थाना प्रभारी नितेश शर्मा ने बताया कि चंद्रपाल और शिवम, निवासीगण रसूलपुर थाना सहसवान बदायूं, की मौत हो गई, जबकि इनके साथी घायल नेकराम पुत्र बाबू राम को अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उसका इलाज चल रहा है। एसओ ने बताया कि शिकायत आने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।
एम्बुलेंस नहीं पहुंच पाई मौके पर
डाक कांवड़ के वाहन के कुचलने से मौत के मुंह में समाए कांवड़ियों को समय रहने उपचार नहीं मिल सका। यही नहीं एम्बुलेंस तक मौके पर नहीं पहुंच पाई, इसी वजह के चलते सीओ अनुज कुमार खुद उन्हें अपने सरकारी वाहन में लेकर अस्पताल पहुंचे थे।
नहीं किया गया जागरूक
इस तरह की दुर्घटना पूर्व में भी हो चुकी है लेकिन तब भी पुलिस महकमे ने सबक नहीं लिया। यदि इस संबंध में कांवड़ियों को जागरूक किया जाता तो संभवत कांवड़िए वाहन के आसपास भूमि पर न सोते। या फिर डाक कांवड़ वाहन चालक पहले आसपास देखकर वाहन का संचालन करता लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उसी का ही परिणाम दुर्घटना के तौर पर सामने है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x