उत्तराखंड : कांग्रेस ने पेट्रोल डीज़ल की मंहगाई के खिलाफ प्रदर्शन किया

0 0
Read Time:9 Minute, 38 Second

देहरादून : पेट्रोल, डीज़ल एवं रसोई गैस की कीमतों में लगातार की जा रही बेतहाशा वृद्धि के विरोध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को कांग्रेस मुख्यालय देहरादून में कांग्रेस भवन से घण्टाघर, दर्शनलाल चैक तक सोषल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मानव श्रंखला बनाकर विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि इस प्रदर्शन के कारण देहरादून पुलिस ने उनके खिलाफ अवैध प्रदर्शन तथा कोरोना संबंधित सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने के लिए मामला दर्ज कर लिया।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत बडी संख्या में प्रातः 10 बजे से कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में एकत्र हुए जहां से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए हाथों में झण्डा एवं तख्तियां लिये कांग्रेसजन घण्टाघर की ओर बढ़े।

प्रदर्शन से पूर्व प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित सभा में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रीतम सिंह ने केंद्र की मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि पिछले छह वर्षों में 2014 से लेकर जून 2020 तक मोदी सरकार ने देश की जनता की गाढ़ी कमाई का अस्सी लाख करोड़ रुपये लूटने का काम किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार की बेशर्मी का आलम ये है कि कोरोना काल के पिछले तीन महीनों में पेट्रोल के दाम 21.50 रुपये व डीजल के दाम 26.46 रुपये बढ़ा कर महंगाई व वैश्विक महामारी के दंश से दुखी जनता की कमर तोड़ने का काम किया है। प्रीतम सिंह ने कहा कि कांग्रेस अब मोदी सरकार की इस लूट को बर्दाश्त नहीं करेगी और महंगाई के खिलाफ जिला ब्लॉक व न्याय पंचायत स्तर तक आंदोलन चलाया जाएगा। सभा का संचालन प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने किया।

कार्यक्रम के उपरान्त कांग्रेसजनों ने महामहिम राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से प्रेषित किया। जिसमें प्रदेश कांग्रेस ने महामहिम राष्ट्रपति से पेट्रोल, डीजल एवं रसोई गैस की कीमतों में की गई बेतहाशा वृद्धि को वापस लेने के निर्देश देने की मांग की।

जिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन में कॉन्ग्रेस ने कहा कि लॉकडाऊन के पिछले तीन माह के दौरान पेट्रोल व डीजल पर लगने वाले केंद्रीय उत्पाद शुल्क और कीमतों में बार-बार की गई अनुचित बढ़ोत्तरी ने भारत के नागरिकों को असीम पीड़ा व परेशानियां दी हैं। जहां एक तरफ देश स्वास्थ्य व आर्थिक महामारी से लड़ रहा है, वहीं दूसरी ओर मोदी सरकार पेट्रोल व डीजल की कीमतों और उस पर लगने वाले उत्पाद शुल्क को बार-बार बढ़ाकर इस मुश्किल वक्त में मुनाफाखोरी कर रही है। मोदी सरकार द्वारा भारत के नागरिकों से की जा रही जबरन वसूली एकदम स्पष्ट परिलक्षित हो रही है।

उन्होंने कहा केवल पेट्रोल व डीजल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क में बार-बार वृद्धि करके मोदी सरकार ने पिछले छः सालों में 18,00,000 करोड़ रु. जमा किए। तीन माह पहले लॉकडाऊन लगाए जाने के बाद पेट्रोल व डीजल पर उत्पाद शुल्क को बार-बार बढ़ाकर तो मुनाफाखोरी और जबरन वसूली की सभी हदें पार कर दी गईं हैं। 5 मार्च, 2020 को पेट्रोल व डीजल के मूल्य में 3 रु. प्रति लीटर की बढ़ोत्तरी की गई। 5 मई, 2020 को मोदी सरकार ने डीजल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क में 13 रु. प्रति लीटर और पेट्रोल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क में 10 रु. प्रति लीटर की बढ़ोत्तरी की। 7 जून, 2020 से लेकर 24 जून, 2020 तक निष्ठुर मोदी सरकार ने 18 दिनों तक पेट्रोल व डीजल के मूल्य लगातार बढ़ाए, जिससे डीजल का मूल्य 10.48 रु. प्रति लीटर एवं पेट्रोल का मूल्य  8.50 रु. प्रति लीटर बढ़ गया।

पिछले साढ़े तीन महीनों में भाजपा सरकार ने डीजल पर मूल्य और उत्पाद शुल्क 26.48 रु. प्रति लीटर व पेट्रोल पर 21.50 रु. प्रति लीटर बढ़ा दिया। एक सरकार द्वारा देश के नागरिकों का इससे ज्यादा शोषण और क्या हो सकता है?

कांग्रेस नेता ने दावा किया कि जब कांग्रेस की यूपीए सरकार केंद्र में सत्ताधीन थी, तो कच्चे तेल का दाम 108 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल था, जो 24 जून, 2020 को गिरकर 43.41 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल हो गया, यानि इसके मूल्य में लगभग 60 प्रतिशत की गिरावट हुई। इसके बावजूद भाजपा सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान पर पहुंचा दिए हैं।

प्रदेश कांग्रेस ने महामहिम राष्ट्रपति से आग्रह किया कि आप 5 मार्च, 2020 के बाद पेट्रोल-डीजल के दामों एवं उत्पाद शुल्क में की गई सभी बढ़ोत्तरी को तत्काल वापस लिए जाने का निर्देश दें और इस मुश्किल समय में इसका फायदा देश के नागरिकों तक पहुंचाएं।

कार्यक्रम में प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, उपाध्यक्ष आर्येन्द्र शर्मा, प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र शाह, पी.के. अग्रवाल, नवीन जोशी, राजपाल खरोला, पूर्व मंत्री अजय सिंह, गोदावरी थापली, ताहिर अली, विशेश आमंत्रित सदस्य सुभाष चाौधरी, निवर्तमान मीडिया चेयरमैन राजीव महर्षि, महानगर अध्यक्ष लालचन्द  शर्मा, पूर्व विधायक राजकुमार, युवा कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव वैभव वालिया, सेवादल के राजेश रस्तोगी, हेमा पुरोति, प्रदेश सचिव राजेश शर्मा, शांति रावत, गरिमा दसौनी, मंजुला तोमर, प्रणीता बडोनी, मंजू त्रिपाठी, एआईसीसी सदस्य अजय नेगी, जयेन्द्र रमोला, अर्जुन कुमार, जिलाध्यक्ष संजय किशोर, गौरव सिंह, महन्त विनय सारस्वत, कुल्दीप चाौधरी, शिव मोहन मिश्रा, प्रमुख प्रदीप थपलियाल, महेन्द्र सिंह राणा, निधि राणा, नवीन पयाल, कमरखान, सीताराम नौटियाल, विकास नेगी, अभिषेक सिंह, महानगर महिला अध्यक्ष कमलेश रमन, डाटा विभाग के दीवान तोमर, सोशल मीज्ञिया के अमरजीत सिंह, संदीप चमोली, युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र नेगी, विजय रतूड़ी मोन्टी, पुष्कर सारस्वत, गौतम सोनकर, ललित भद्री, राजेश चमोली, दीप बोहरा, जसविन्दर गोगी, मोहित उनियाल, मनोज नौटियाल, देवेन्द्र सती, सूर्यप्रताप सिंह राणा, अविनाश मणि, ब्लाक अध्यक्ष मेघ सिंह, राजवीर सिंह, अजय रावत, आशीष सक्सेना, संदीप कुमार, सुधीर सुनेहरा, सुनित राठौर, राजेन्द्र चैहान, देवेन्द्र सती, राजकुमार यादव, सावित्री थापा सहित सैकडों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x