बद्रीनाथ धाम : अब रात्रि विश्राम कर सकेंगें श्रद्वालु, गेस्ट हाउस खोलने की मिली अनुमति

0 0
Read Time:3 Minute, 23 Second

बद्रीनाथ धाम में श्रद्धालुओं को आने की अनुमति 1 जुलाई से मिली है। अभी सिर्फ राज्य के ही श्रद्धालु बद्रीनाथ जा सकते हैं। धाम में रात्रि विश्राम की व्यवस्था न होने से यात्रियों को रात्रि विश्राम के लिए पांडुकेश्वर, जोशीमठ और पीपलकोटी आना पड़ रहा था। बरसात शुरू होने से मुश्किल और भी बढ़ गई थी। खास तौर पर लामबगड़ यात्रियों के लिए मुसीबत बना हुआ है। कई कई घंटे इसके बंद रहने से यात्रियों को दिक्कत उठानी पड़ रही है।

जिसको मद्देनज़र रखते हुए प्रशासन ने बद्रीनाथ धाम में अब श्रद्धालुओं को रात्रि विश्राम करने की अनुमति दी है। प्रशासन ने गढ़वाल मंडल विकास निगम और मंदिर समिति के गेस्ट हाउस के अलावा दो प्राइवेट गेस्ट हाउस को भी यात्रियों को ठहराने की अनुमति दी है। हाईवे बंद होने के चलते आने वाली दिक्कतों को देखते हुए प्रशासन ने यह व्यवस्था की है।

बद्रीनाथ धाम में दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या हर दिन 200 से अधिक पहुंच गई है। गुरुवार को बद्रीनाथ धाम में 236 और केदारनाथ में 129 श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। बद्रीनाथ धाम में श्रद्धालुओं के आने से रौनक भी लौटती जा रही है। 1 जुलाई से शुरू हुई यात्रा के तहत बद्रीनाथ धाम में अभी तक 2596 तीर्थयात्री दर्शन कर चुके हैं। अब प्रशासन ने तीर्थयात्रियों के लिए रात्रि विश्राम की भी व्यवस्था कर दी है, जिससे तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है। वहीं केदारनाथ में 129 लोगों ने बाबा केदार के दर्शन किए। कानून-गो एमएल अंजवाल ने बताया कि सभी श्रद्धालुओं के जरूरी दस्तावेज और जांच के बाद ही उन्हें धाम के लिए भेजा गया है। 

बद्रीनाथ हाईवे लामबगड़ में बार-बार बंद हो जाता है, जिससे यात्रियों को घंटों इंतजार करना पड़ता है। अब प्रशासन ने यहां पर पैदल मार्ग भी बना दिया है। हाईवे यहां पर बंद होने से खुलने में अगर अधिक समय लगता है तो यात्री इस मार्ग से पैदल पार कर दूसरी तरफ जाकर अन्य वाहनों से आवाजाही कर सकते हैं। एसडीएम जोशीमठ अनिल चन्याल ने बताया कि यात्रियों की सुविधा के लिए पैदल मार्ग बना दिया गया है। साथ ही वैकल्पिक मार्ग भी तैयार किया जा रहा है। हाईवे बंद होने पर इससे वाहनों की आवाजाही हो सकेगी।
 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x