WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

यूएन की रिपोर्ट से बढ़ सकती है राष्‍ट्रपति पुतिन की मुश्किलें

यूएन की रिपोर्ट से बढ़ सकती है राष्‍ट्रपति पुतिन की मुश्किलें
0 0
Read Time:2 Minute, 14 Second

रूस-यूक्रेन युद्ध को 7 महीने पूरे हो गए है। 7 माह में पहली बार इस बारे में यूएन ने अपनी एक खास रिपोर्ट को दुनिया के सामने रख दिया है। इस रिपोर्ट में कई हैरतअंगेज खुलासे किए गए हैं। इसमें कहा गया है कि रूस ने युद्धअपराधों को अंजाम दिया है। रिपोर्ट का ये पहलू इसलिए भी खास है क्‍योंकि अमेरिका और यूक्रेन ने रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन पर युद्ध अपराधी होने का आरोप लगाया था। इन दोनों ही देशों ने कहा था कि राष्‍ट्रपति पुतिन पर युद्धअपराधों के लिए मामला चलाया जाना चाहिए। संयुक्‍त राष्‍ट्र की रिपोर्ट सामने आने के बाद उनका ये दावा और पुख्‍ता हो गया है। बता दें कि मानवाधिकार परिषद के सदस्य देशों के अनुरोध पर संयुक्‍त राष्‍ट्र ने मार्च में एक स्‍वतंत्र जांच आयोग गठित किया था। इसने ही अब अपनी पहली रिपोर्ट दी है। इस रिपोर्ट में मानवाधिकार जांचकर्ताओं ने माना है कि हिंसक संघर्ष के दौरान रूस ने यूक्रेन में युद्ध अपराधों को अंजाम दिया है। इस आयोग ने यूक्रेन के कीव, चेरनिहीव, खारकीव और सूमी क्षेत्रों में जांच के बाद ये रिपोर्ट जारी की है। इन इलाकों में रूसी सैनिकों या रूस-समर्थित सुरक्षा बलों पर मानवाधिकारों के उल्‍लंघन के गंभीर आरोप लगे थे। हालांकि राष्‍ट्रपति पुतिन अपनी सेना के जवानों के खिलाफ लगे सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते रहे हैं। लेकिन अब इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद हालात बद सकते हैं।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

admin

Related Posts

Read also x