समुद्र तटों पर होगा को-वर्किंग स्पेस की सुविधा, पर्यटक होंगे आकर्षित

 समुद्र तटों पर होगा को-वर्किंग स्पेस की सुविधा, पर्यटक होंगे आकर्षित
0 0
Read Time:1 Minute, 38 Second

गोवा सरकार ने विशेष रूप से आईटी क्षेत्र के पेशेवरों को आकर्षित करने के लिए समुद्र तटों पर ‘को-वर्किंग’ को बढ़ावा देने का विकल्प चुना है, ताकि तकनीकी विशेषज्ञ काम करते समय तटीय मौसम का आनंद ले सकें।
पर्यटन मंत्री रोहन खुंटे ने सन-सी-सैंड फॉमूर्ला में चौथा ‘एस’ सॉफ्टवेयर को जोड़ा है।
खुंटे के अनुसार, पिछले कुछ सालों में वर्क फ्रॉम होम या किसी एक ऑफिस से काम करने के विकल्प के रूप में को-वर्किं ग की अवधारणा ने उड़ान भरी है।
उन्होंने कहा, यह लचीलापन, नेटवर्किंग के मौके और उत्पादकता बढ़ोतरी में लाभ पहुंचाता है।
उन्होंने कहा, गोवा क्रिएटिविटी लोगों के लिए पसंदीदा जगह बनती जा रही है। हमें उन्हें जगह मुहैया कराने की जरूरत है। उनके क्रिएटिविटी को समर्थन देने के लिए हम समुद्र तटों पर को-वर्किंग की सुविधा शुरू करने जा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि इससे गोवा की अर्थव्यवस्था में मदद मिलेगी। आईटी इको-सिस्टम भी आगे बढ़ेगा।
पर्यटन उद्योग के स्टेकहॉल्डर्स का कहना है कि इस अवधारणा से पर्यटकों को गोवा की ओर आकर्षित करने में मदद मिलेगी, क्योंकि उन्हें यहां से काम करने की सुविधा होगी।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x