15 अगस्त को लॉन्च हो सकती है देश की पहली कोरोना वैक्सीन

0 0
Read Time:3 Minute, 6 Second

भारत में कोरोना का ग्राफ़ बढ़ता ही जा रहा है। पूरा भारत कोरोना महामारी से जूझ रहा है। इस महामारी से रोजाना हजारों लोग संक्रमित हो रहे हैं और कई जान गंवा रहे हैं। बता दे कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ भारत अपनी वैक्सीन बनाने की कोशिशों में जुटा है। इस बीच भारत के लोगों के लिए एक राहत भरी ख़बर सामने आ रही है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने भारत बायोटेक को एक पत्र लिखकर मानव परीक्षण (Human Trial) को फास्क ट्रैक मोड से चलाने के लिए कहा है। आईसीएमआर ने कहा है कि भारत बायोटेक द्वारा कोरोना वैक्सीन के इंसानों पर परीक्षण के परिणाम 15 अगस्त तक जारी किए जा सकते हैं। इसका मतलब है कि देश की पहली स्वदेशी कोरोना वैक्सीन कोवाक्सिन’ (COVAXIN) 15 अगस्त तक लॉन्च हो सकती है।

आईसीएमआर की ओर से जारी लेटर के मुताबिक, आने वाले 7 जुलाई से ह्यूमन ट्रायल के लिए इनरोलमेंट शुरू हो जाएगा। इसके बाद अगर सभी ट्रायल सही हुए तो आशा है कि 15 अगस्त तक कोवैक्सीन को लॉन्च किया जा सकता है। सबसे पहले भारत बायोटेक की वैक्सीन मार्केट में आ सकती है। इस वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल के लिए भारतीय औषधि महानियंत्रक (DCGI) की तरफ से हरी झंडी दे दी गई है।

एम्स समेत देश के 13 अस्पतालों को क्लीनिकल ट्रायल में तेजी लाने को कहा गया है। ताकि तय दिन इस टीके को लॉन्च किया जा सके। बता दें कि भारत बायोटेक वहीं कंपनी है जिसने पोलियो, रोटावायरस, रेबीज, जापानी इनसेफ्लाइटिस, चिकनगुनिया और जिका वायरस के लिए भी वैक्सीन बनाई है।

गौरतलब है कि भारत में अब तक कोरोना के मामले 6 लाख 20 हजार के पार पहुंच गए हैं। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में 6328 केस सामने आए हैं, जबकि 125 लोगों की जान गई है। यहां कोरोना के कुल मामले तेजी से 2 लाख की तरफ बढ़ रहे हैं। इसके बाद तमिलनाडु में एक दिन में 4343 नए मामले दर्ज हुए और 57 लोगों की जान गई। यहां भी संक्रमितों की संख्या अब 1 लाख के काफी करीब है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x