WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

अच्छी खबर : कोरोना महामारी के बीच जीवनरक्षक बना ये स्टेरॉयड

0 0
Read Time:3 Minute, 10 Second

कोरोना वायरस महामारी के इलाज के मामलों में एक अच्छी खबर सुनने को मिली है। ट्रायल में खुलासा हुआ है कि कोविड-19 के अस्पताल में भर्ती संक्रमितों को जेरेरिक स्टेराॅयड डेक्सामेथासोन की कम खुराक देने से वायरस के सबसे गंभीर मामलों में भी मृत्यु दर में एक तिहाई तक की कमी आई हैं। ट्रायल का परिणाम कोरोना महामारी के खिलाफ एक बड़ी सफलता माना जा रहा हैं यह क्लीनिकल ट्रायल ब्रिटेन के नेतृत्व वाले वैज्ञानिकों द्वारा किया गया जिसे रिकवरी नाम दिया गया है। शोधकर्ताओं के मुताबिक, इस ड्रग को हाॅस्पिटल में भर्ती कोरोना संक्रमितों के लिए प्राथमिकता के आधार पर शमिल किया जाना चाहिए।

क्लीनिकल ट्रायल का नेतृत्व कर रहे ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के प्रोफेसर मार्टिन लैंड्रे ने कहा, ‘‘यह एक परिणाम है जो दिखाता है कि अगर कोरोना संक्रमित जो वेंटिलेटर या ऑक्सीजन पर हैं, उसे डेक्सामेथासोन दिया जाता है तो यह संक्रमित के जीवन को बचा सकता है, या नही यह सब अपेक्षाकृत कम खर्च में हो सकता है।’’

उनके सहयोगी पीटर हाॅर्बी के मुताबिक, डेक्सामेथासोान, सूजन को कम करने के लिए अन्य बीमारियों में व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला एक सामान्य स्टेराॅयड है। यह ऐसा एकमात्र ड्रग है जिसने अब तक मृत्यु दर को कम किया है। हाॅर्बी ने इसे एक बड़ी कामयाबी बताया। ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकाॅक ने मंगलवार को कहा कि ब्रिटेन ने कोरोना संक्रमितों को तुरंत डेक्सामेथासोन देना शुरू कर दिया है।

उन्होंने कहा कि ब्रिटेन ने 3 माह पहले इस ड्रग की क्षमता को परखने के बाद व्यापक रूप से इसका स्टाॅक करना शुरू कर दिया है। उन्होंने एक बयान में कहा, ‘‘क्योंकि हमने डेक्सामेथासोन की क्षमता को पहले से ही परख लिया था, ऐसे में हम मार्च से इसका स्टाॅक कर रहे हैं।” गौरतलब है कि इस समय कोेरोना संक्रमण के लिए कोई स्वीकृत उपचार या वैक्सीन इलाज नही है। विश्व भर में इस समय कोरोना महामारी का सामना कर रही है और इसके कारण विश्वभर में चार लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
WhatsApp Image 2022-11-11 at 11.45.24 AM

admin

Related Posts

Read also x